कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर एफडब्लूआईसीई कर रहा है शुटिंग से जुड़े वर्करों को दो दिन अवकाश देने पर विचार



एमपी नाउ डेस्क



मुंबई:-  कोविड-19 से प्रभावित होकर अभिनेता अक्षय कुमार की ‘राम सेतु’, धर्मा प्रोडक्शंस की ‘मिस्टर लेले’ से लेकर संजय लीला भंसाली की  फिल्म 'गंगूबाइ काठियावाड़ीर् और अन्य फिल्मों तथा टीवी शो की शुटिंग प्रभावित होने के बाद तथा ‘‘सूर्यवंशी’’ जैसी फिल्मों की रिलीज तिथि अनिश्चित काल के लिए आगे बढ़ाये जाने और कैटरीना कैफ ,अक्षय कुमार, विक्की कौशल और भूमि पेडनेकर जैसे फिल्मी सितारों के कोविड-19 से संक्रमित होने के चलते तथा महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि के बीच विभिन्न फिल्मों की शूटिंग रुकने का खतरा बढ़ गया है।   फिल्मों,टीवी शो से जुड़े टेक्निशियनों की ३२ यूनियनों की मदर बॉडी फेडरेशन आॅफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्पलॉयज (एफडब्लूआईसीई)  इस बात पर विचार कर रही है कि क्यों ना फिल्मों और टीवी शोसे जुड़े वर्करों को दो दिन अवकाश दिया जाए इसके लिए सभी प्रकार की शुटिंग शनिवार और रविवार को बंद  रखा जाए तथा  बाकी दिन सात बजे शाम से पहले शुटिेग समाप्त कर दिया जाए ताकि हमारे वर्कर और टेक्निशियन समय पर घर पहुंच जाएं। एफडब्लूआईसीई के प्रेसिडेंट-बीएन तिवारी, जनरल सेक्रेटरी -अशोक दूबे, चीफ एडवाईजर- शरद शेलार, अशोक पंडित तथा ट्रेजरार गंगेश्वरलाल श्रीवास्तव (संजू भाई) के मुताबिक हम इसके लिए निर्माताओं और चैनल से बात कर रहे हैं। हमारी प्रार्थमिकता है कि हमारे टैक्निशियनों और मजदूरों को सुरक्षा मिले और उन्हे आर्थिक नुकसान भी ना हो। हम चाहते हैं कि निर्माता कोविड -१९ के लिये बनी सरकारी गाईड लाईन का पालन करें और हर सेट पर शुटिंग के लिए मौजूद टैक्निशयनोंऔर मजदूरों तथा सभी कलाकारों का कोविड टेस्ट कराया जाए तथा उनकी रिर्पोट आने के बाद ही सेट पर जाने की अनुमति दी जाए। एफडब्लूआईसीई के प्रेसिडेंट बीएन तिवारी  ने कहा है कि कोविड से बचाव के लिए टीकाकरण भी निर्माता द्वारा टेक्निशियनों और मजदूरों का कराया जाए। साथ ही बड़े स्टार शुटिंग के दौरान आने वाले अपने स्टाफ में कटौती करें। फेडरेशन के जनरल सेक्रेटरी अशोक दूबे ने कहा है कि हम शुरू से मांग कर रहे हैं कि निर्माता टैक्निशियनों को कोविड से सुरक्षा दें लेकिन कई निर्माता अब भी लापरवाही कर रहे हैं।  आज  वर्ष 2021 वर्ष 2020 की पुनरावृत्ति प्रतीत होरही है। उधर एफडब्लूआईसीई के ट्रेजरार गंगेश्वरलाल श्रीवास्तव ने कहा हैएफडब्लूआईसीई फिल्मांकन गतिविधियों को निलंबित करने का जोखिम नहीं उठा सकता मगर ये भी सही है कि  सेट पर कोविड-19 का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए सुरक्षा उपायों को बढाÞने की जरूरत है। । इसमें नियमित रूप से आरटीपीसीआर जांच करना शामिल हैं। फिल्म ‘‘राम सेतु’’ की शूटिंग कर सिर्फ अक्षय कुमार ही नहीं बल्कि फिल्म निर्माण दल के 45 सदस्य भी कोविड-19 से संक्रमित पाये गए हैं। एहतियात के तौर पर, अभिनेता को सोमवार को शहर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। दूसरी ओर, कौशल और पेडनेकर फिल्म निर्माता शशांक खैतान की धर्मा प्रोडक्शंस की फिल्म ‘‘मिस्टर लेले’’ की कथित तौर पर शूटिंग कर रहे थे। फेडरेशन आॅफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉइज (एफडब्ल्यूआईसीई) महासचिव अशोक दुबे ने फिल्म निर्माण में कोविड-19 मामलों में वृद्धि को "खतरनाक" बताया। उन्होंने कहा, ‘‘यह हम सभी के लिए एक तनावपूर्ण समय है। अक्षय की ‘राम सेतु’, धर्मा प्रोडक्शंस की ‘मिस्टर लेले’ से लेकर संजय लीला भंसाली की 'गंगूबाई' तक। पूरी शूटिंग प्रभावित हुई है। सभी सतर्क हैं लेकिन वे तय नहीं कर पा रहे कि क्या करें।’’ सीमा पहवा, गोविंदा, ऋत्विक भौमिक, रूपाली गांगुली, आदित्य नारायण और अभिजीत सावंत भी कोविड-19 से संक्रमित पाये गए हैं। आमिर खान और आर माधवन इस समय वायरस से ठीक होने की राह पर हैं। 30 मार्च को रियलिटी शो ‘‘डांस दीवाने’’ के यूनिट के 18 सदस्य कोविड-19 से संक्रमित पाये गए थे जिसके बाद निर्माताओं को एक हफ्ते के लिए इसकी शूटिंग रोकनी पड़ी।

शशिकांत सिंह (पत्रकार मुम्बई)

९३२२४११३३५

---------------------

Popular posts from this blog

क्यो स्त्री को देवी का दर्जा दिया गया है कविता मिश्रा DU स्टूडेंट्स और पत्रकार दिल्ली।

शिवतांडव स्तोत्रपाठ कर रातों रात करोड़ो लोगों के दिल मे जगह बनाने वाले बाबा कालीचरण MP NOW EXCLUSIVE

भव्य होगी 10 दिवसीय श्रीरामलीला