दशहरा के दिन करें पक्षी के दर्शन घर मे आता है सौभाग्य धन की नही होती कोई कमी पृथ्वी में है शिव के प्रतिनिधि के रूप मे



एमपी नाउ डेस्क

धर्म डेस्क:- हिन्दू धर्म मे पुराणों में नीलकण्ठ पक्षी को शुभता का प्रतीक माना जाता है ऐसी मान्यता है दशहरा के दिन नीलकण्ठ पक्षी के दर्शन से घर मे वैभव धन सम्पन्ता और साल भर शुभता बनी रहती है


रावण वध के बाद भगवान राम ने की थी भोले शिव शंकर की पूजा


किदवंती कथाओं के अनुसार जब श्री राम- रावण का भीषण युद्ध हुआ था युद्ध मे अधर्म का प्रतीक रावण मारा गया था रावण को मारने के कारण भगवान राम को ब्रम्ह हत्या का पाप लगा था उसी ब्रम्ह हत्या के पाप से मुक्ति के लिए श्री राम ने अपने अनुज लक्ष्मण के साथ भगवान शिव की आराधना की थी भगवान शिव श्री राम की आराधना से प्रसन्न होकर पृथ्वी में नीलकण्ठ पक्षी के रूप में अवतरित हुए थे।

नीलकण्ठ पक्षी पृथ्वी में  भगवान शिव के प्रतीक के रूप में उपस्थित है

ऐसी मान्यता है भगवान शिव नीलकण्ठ पक्षी के रूप में धरती में विचरण करते है दशहरा के दिन इस पक्षी के दर्शन से प्राणियों को शुभता प्रदान होती है यह कोरेशियस बेन्गालेंसिस रोलर वर्ग का पक्षी उष्टकतिबन्धीय वन क्षेत्र में पाया जाता है इसकी सबसे दिलचस्प बात है ये की भारत मे बहुताय पाया जाता है।




Popular posts from this blog

क्यो स्त्री को देवी का दर्जा दिया गया है कविता मिश्रा DU स्टूडेंट्स और पत्रकार दिल्ली।

शिवतांडव स्तोत्रपाठ कर रातों रात करोड़ो लोगों के दिल मे जगह बनाने वाले बाबा कालीचरण MP NOW EXCLUSIVE

भव्य होगी 10 दिवसीय श्रीरामलीला