कुछ इस कदर भीड़ बेवड़ो मदिरा प्रेमियों की शराब ठेकों पर

कोरोना संक्रमण से बचाब के लिए केंद द्वारा घोषित लॉक डाउन के इतने दिन बीत जाने के बाद दूरदर्शन में प्रसारित धारावाहिक के साथ- साथ एक वस्तु की हमेशा चर्चा हुई वह थी शराब,मदिरा प्रेमियों शराबियों ने लॉक डाउन में ऐसा कोई दिन नही था जब सोशल मीडिया अन्य माध्यमों के जरिये सुर्खियां न बटोरी हो शराब के शौकीनों के लिए जैसे इन दिनों में दुःखों का पहाड़ टूट पड़ा फिर कहते है न भगवान के घर मे देर है अंधेर नही  ऐसे में फिर इन मदिरा प्रेमियों के लिए भगवान बनकर  केंद एव राज्य सरकार सामने आई और लॉक डाउन के 3 फेज में भारत सरकार के गृह मंत्रालय की तरफ से जारी आदेश संख्या 40-3/2020 DM 1(A) के Annexure वन में सार्वजनिक स्थलों को लेकर दिशा निर्देश दिए गए हैं. इस सूची के क्रम संख्या सात में कहा गया है कि सार्वजनिक स्थलों पर शराब पीने और पान, गुटखा, तंबाकू आदि खाने की अनुमति नहीं होगी.
इसके ठीक नीचे यानि क्रम संख्या आठ में कहा गया है कि शराब की दुकानों और पान, गुटखा, तंबाकू आदि की दुकानों को ये सुनिश्चित करना होगा कि ग्राहकों के बीच कम से कम छह फीट यानि दो गज की दूरी हो और दुकान पर एक समय में पांच से अधिक लोग ना हों इस आदेश के बाद जैसे शराबियों में जान आ गई ।
सोमवार से विभिन्‍न राज्‍यों में सुबह 9 बजे से शराब की दुकानें खोली गईं,  22 मार्च से बंद शराब दुकानों में  बाहर एक-एक किलोमीटर लंबी लाइन लग गई। दिल्‍ली में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को बल प्रयोग भी करना पड़ा। शराब खरीदने के लिए भारी भीड़ को देखते हुए दिल्‍ली पुलिस ने सभी शराब की दुकानों को बंद करवा दिया है।
शराब के प्रति मदिरा प्रेमी इतने ललायित थे कि उन्हें प्रशासन के द्वारा दी गई गाइड लाइन का होश ही नही रहा देश में कई जगह सोशल डिस्टेंस का उल्लंघन करते नजर आए पुलिस की डंडों की मार भी इन शराबियों के उत्साह में कोई कमी न ला सकी।

आज फिर शराबियों मदिरा प्रेमियों के लिए एक बात जहन में आती है,
रोक दो मेरे जनाज़े को जालिमों,
मुझमें जान आ गयी है,
पीछे मुड़के देखो कमीनो,
दारू की दुकान आ गयी है…


News in Hindi

Popular posts from this blog

क्यो स्त्री को देवी का दर्जा दिया गया है कविता मिश्रा DU स्टूडेंट्स और पत्रकार दिल्ली।

शिवतांडव स्तोत्रपाठ कर रातों रात करोड़ो लोगों के दिल मे जगह बनाने वाले बाबा कालीचरण MP NOW EXCLUSIVE

भव्य होगी 10 दिवसीय श्रीरामलीला